Flutter क्या है – Flutter के बारे में सब कुछ (2020)

क्या आप जानना चाहते हैं कि Flutter क्या है और यह मशहूर क्यों हो रहा है?

अगर आपका जवाब हां है, आप बिल्कुल सही लेख पढ़ रहे हैं.

आज के लेख में हम आपको Flutter से संबंधित सारी जानकारी देंगे.

इस लेख में आपको Flutter के बारे में सब कुछ पता लग जायेगा कि यह क्या है, यह काम कैसे करता है, इसे सीखने के क्या फायदे हैं, Flutter का Scope क्या है.

और सबसे बड़ी बात कि हमें Flutter सीखने के बाद Job मिलेगी भी या नहीं और अगर मिलेगी तो कितने salary तक होगी.

आप बने रहिए हमारे साथ आज हम आपके सारे सवालों के जवाब देंगे🙂

तो चलिए आपका समय बरबाद ना करते हुए हम पहले जल्दी से जान लेते हैं कि Flutter क्या है.

Flutter क्या है – Flutter के बारे में सब कुछ

Flutter Kya Hai

Flutter एक Open-Source UI Software Developement Kit है, जिसे Google द्वारा बनाया गया है.

Flutter का इस्तेमाल Android, iOS, Linux, Mac, Windows, Google Fuchsia आदि Platforms के लिए Applications बनाने के लिए किया जाता है.

हम यह भी कह सकते हैं कि Flutter में हर तरह के प्लेटफॉर्म के लिए एप्लिकेशन बनाने की सुविधा है.

इसका निर्माण 2015 में शुरू हुआ. फिर Google developers ने unstable versions के बाद Flutter का पहला “stable version” 4 दिसंबर, 2018 को Flutter 1.0 Version निकाला.

फिर Flutter के Version 1.0 के बाद गूगल ने 11 दिसंबर, 2019 Flutter का 1.12 version release किया.

इसके बाद 6 May, 2020 को Dark SDK के Version 2.8 और Flutter के Version 1.17.0 को release किया गया.

अभी Flutter का Version 1.20.0 चल रहा है, जोकि 5 August, 2020 को release किया गया था.

गूगल द्वारा, Flutter के आगे भी सुधारों और नए Features के साथ updates लॉन्च होते रहेंगे.

Programming के बारे में मज़ेदार Fact: दुनिया का सबसे पहला Programmer एक महिला थी, जिनका नाम Ada Lovelace था. उन्होंने 1,800’s में Analytical Engine पर काम किया था.

Click To Tweet | Share on WhatsApp

हमें आशा है कि आप अभी तक अच्छे से जान चुके होंगे कि Flutter क्या है.

Flutter के आने से Developers को सुविधा कैसे मिली?

Flutter Developer Benefits in Hindi

Flutter के आने से पहले हम Android Apps, Java/Kotlin में और iOS Applications, Swift में बनाते थें.

फिर उनको अलग-अलग Softwares में जाकर अपडेट करते थे. ऐसे पहले तो आपको दोनों Languages (Swift/Java) सीखनी पड़ती थी, जोकि एक बिल्कुल प्रोग्रामिंग में नए व्यक्ति को बहुत ज्यादा मुश्किल देती थीं.

लेकिन यह समस्या Flutter के आने के बाद हल हो गई.

Flutter widgets पर चलता है, जोकि Code से बने होते हैं और यह Java/Swift में ही बनते हैं.

हमें बस इन Widgets को अपने App के design के हिसाब से set करके लगाना होता है.

बाकी Flutter में जो भी functioning करनी होती है वो Dart language से होती है.

Flutter के आने के बाद developers को applications बनाने में बहुत कम समय लगता है और अपडेशन में आसानी रहती है क्योंकि android/iOS की कोडिंग एक ही रहती है.

वैसे अभी भी कई लोग Java और Kotlin में Apps को बनाते हैं, क्यूंकि यह developers पर ही निर्भर करता है कि वे apps बनाने के कौन सा तरीका इस्तेमाल करना चाहते हैं और Flutter भी अभी नया ही है अभी यह developers के बीच इतना common नहीं हुआ है.

Flutter काम कैसे करता है?

Flutter widgets के concept पर काम करता है.

किसी भी एप्लिकेशन में इस्तेमाल होने वाला बटन होगा, Search Bar, इमेज, Letters का समूह Flutter में Widget होता है.

यह widgets आपको Android Studio में पहले से ही मिलते हैं.

अगर हम widgets के बारे में उदाहरण से समझे तो,

मान लीजिए आप एक Music App बना रहे हैं जिसमें कई स्क्रीन हैं.

अब आपके पास पहले App बनाने के लिए एक स्क्रीन है.

अब आपको सबसे पहले स्क्रीन में एक बड़ा सारा गाने का पोस्टर लगाना है और गाने को आगे पीछे करने के लिए buttons का भी इस्तेमाल करना है

तो अब आपको पोस्टर लगाने के लिए एक widget पोस्टर का लेना है और तीन बटन, जिनमें दो बटन गाने को आगे पीछे करने का और एक गाने को चलाने और बंद करने का लगाने के लिए तीन widgets को लगाना है.

यहां पर आप चार widgets लगायेंगे.

इसके बाद आप App को बनाकर Android Studio में run करके देख सकते हैं और फिर फोन में डालकर चला सकते हैं.

अब आप अच्छे से समझ गए होंगे कि Flutter काम कैसे करता है, widgets के concept पर.

Flutter में कौन सी मशहूर Applications बनी हैं?

Flutter में अभी तक हजारों applications बन चुकी हैं, जिनमें से काफी applications लोगों में काफी मशहूर हैं, जोकि नीचे दी गई हैं: 

  • Google Ads 
  • Xianyu by  Alibaba
  • Reflectly
  • Hamilton
  • Stadia by Google
  • Dream 11
  • Groupon
  • MGM Resorts 
  • Tencent
  • Nubank

इन सभी Applications का काफी नाम है, क्यूंकि यह मशहूर कंपनियों की apps हैं, ये सभी apps Flutter में बनी हैं.

क्या Flutter में सिर्फ Mobile Apps का ही निर्माण होता है?

Flutter Applications in Hindi

आपने सुना होगा कि Flutter को Mobile Applications बनाने के लिए बनाया गया, यह अधूरा सच है.

यह जरूरी नहीं है कि अगर आपको Flutter में App बनाना है तो वो Smartphone की स्क्रीन वाला ही होना चाहिए.

Flutter को Google ने इस तरह से बनाया है कि आप इसमें किसी भी स्क्रीन वाली मशीन की एप्लिकेशन बना सकते हैं.

जैसे कि मोबाइल, टैबलेट, डेस्कटॉप, स्मार्ट वॉचेस की स्क्रीन, फ्रिज की स्क्रीन, जहाज की स्क्रीन, कार की स्क्रीन आदि.

ऐसा पहले कभी नहीं हुआ क्योंकि अलग-अलग स्क्रीन में applications बनाने के लिए हमें अलग-अलग प्रोग्रामिंग languages को सीखने और उसमे code करने की जरूरत पड़ती थी.

Flutter में सिर्फ एक ही programming language की जरूरत पड़ती है और वो है, Dart जो कि Google द्वारा ही बनाई गई थी 2013 में. 

Flutter और React Native में से क्या बढ़िया है?

हम Flutter की बात करें और React Native की बात ना करें ऐसा नहीं ही सकता, क्यूंकि React Native भी Flutter की तरह android अौर iOS apps बना सकता है.

React Native, Flutter एक अच्छा Competitor है.

React Native को भी मशहूर कंपनी Facebook ने बनाया है.

तो चलिए अब हम जानते हैं कि React Native और Flutter में से कौन सा Software बडिया है.

React Native को सीखने के लिए आपको Javascript प्रोग्रामिंग Language सीखनी पड़ेगी और उसके बाद React JS.

Flutter में आप सीधे Dart के basics सीख कर app बना सकते हैं जो कि programming की दुनिया से अनजान व्यक्ति के लिए काफी सही है. 

React Native से आप सिर्फ Android/iOS Apps बना सकते हैं.

Flutter से आप Linux, Windows, Android, iOS आदि सभी platforms के apps बना सकते हैं.

React Native थोड़ा ज्यादा पुराना है इसलिए उसकी community support ज्यादा है लेकिन आंकड़े बता रहे हैं कि वो दिन दूर नहीं जब हर जगह flutter ही होगा.

अब यह तो आप जान चुके होंगे कि React Native से अभी Flutter आगे जा रहा है, क्यूंकि Flutter गूगल का product है, इसलिए इसे गूगल भी प्रोमोट कर रहा है.

कहा जा रहा है कि आने वाले समय में Websites का निर्माण भी Flutter में ही किया जाएगा.

इसलिए आज के समय में Flutter को सीखना एक काफी अच्छी opportunity है.

Flutter चलाने के लिए हमें कैसा लेपटॉप या कंप्यूटर चाहिए?

Flutter एक engine है जो अभी दो softwares में चलता है, जोकि नीचे दिए गए हैं.

  • Android Studio: Android Studio एक Free Software है, जोकि कम से कम 8GB RAM और i5 Processor वाले कंप्यूटर या लैपटॉप में चलता है. अगर आपके पास ज्यादा बड़ा PC होगा तो आपको Android Studio को चलाने में आसानी होगी.
  • VS Code – यह भी एक free software है, VS Code को चलाने के लिए ज्यादा बड़े लैपटॉप की जरूरत नहीं पड़ती, यह थोड़ी कम specifications वाले लैपटॉप या PC में भी चल जायेगा.
  • Codepen – यह एक ऑनलाइन वेबसाइट है, जिसमें हम Flutter की practice कर सकते हैं, यह सिर्फ आपकी सुविधा के लिए हमने बताई है.

जैसा कि आपने ऊपर पढ़ा है कि Flutter को चलाने के लिए Android Studio में काफी RAM और बड़े Processor की जरूरत पड़ती है.

तो ऐसे में आपको ज्यादा specs वाला लैपटॉप या कंप्यूटर खरीदना पड़ेगा.

Flutter कैसे सीखें – Flutter Free Courses in Hindi

Flutter Free Courses in Hindi

अभी तक आपने Flutter के बारे में काफी कुछ जान लिया है, अब आपका Flutter को सीखने का मन कर रहा होगा. Flutter को सीखना आसान है.

जैसे कि हमने आपको बताया है कि Flutter को Dart language की जरूरत पड़ती है, तो आपको सबसे पहले Dart सीखनी पड़ेगी.

Dart को सीखने के लिए आपको C या java सीखने की जरूरत नहीं है, आप सीधे ही dart language सीख सकते है चाहे आपने कभी भी कोई programming language ना सीखी हो.

नीचे हमने Flutter के कुछ Free Courses दिए हैं, जिन्हें करके आप Flutter सिख सकते हैं.

  • Flutter Free Hindi Course – यह कोर्स हिंदी में है और आप इससे शुरूआत कर सकते हैं.
  • Flutter.Dev Free Flutter Course – इस कोर्स से आप apps बना सकेंगे और आपको dart language भी आ जाएगी.
  • Caster.io Flutter Zero to Hero Course – यह चार घंटे का कोर्स है. आप इसमें जीरो से शुरू करोगे और एक पूरी app बना लेंगे.

यह कुछ Flutter के Free Courses थें, जिन्हें आप करके Flutter को सीक सकते हैं.

अब बात आती है कि आप Courses करने के बाद क्या करें, तो चलिए इसके बारे में भी जान लेते हैं.

Flutter के Courses करने के बाद क्या करें?

आपको हमारे द्वारा ऊपर बताए गए courses को करने के बाद अच्छे desgin वाले apps ढूंढने शुरू करने हैं.

अच्छी UI वाली Applications को ढूंढकर आपको उनकी UI, Flutter में बनाकर practice करनी है.

आप मशहूर applications जैसे कि Netflix, Spotify, Uber के UI को भी कापी करके बनाने की practice कर सकते हैं, आप ऐसे करके 30-40 apps बनाने की practice कीजिए.

धीरे धीरे practice करने के बाद आप इस स्थिति में आ जाओगे कि आप खुद अपनी डिजाइन वाली एप्स बना सकेंगे.

LinkedIn और Twitter पर बहुत सारे Flutter Developers हैं, आप उनके साथ जरूर जुड़िए और अपने Apps के designs उनके साथ सांझा कीजिए और अपने designs पर उनके comments मंगिये.

ऐसा करने से आपको काफी मदद मिलेगी, क्यूंकि कई अनुभवी लोग आपको ऐसी टिप्स देंगे जो आपको पहले पता नहीं होंगी.

आप अपने द्वारा बनाई गई कम से कम 5 applications को अपने portfolio में रखिए और इनमें से 1 App आपकी playstore में भी होनी चाहिए.

ऐसे करने से आपका portofolio अच्छा बन जाएगा और आपको जॉब मिलने में आसानी होगी.

Flutter सीखने के बाद क्या नौकरियां मिलती हैं?

Flutter Job Vacancies in Hindi

अगर Flutter जॉब की बात करें तो आज के समय में Flutter के स्किल की मांग भर-भर के आ रही हैं.

Proof के लिए आप अपने area के हिसाब से Indeed में Flutter developer सर्च कर सकते हैं. 

Flutter के developer की मांग ज्यादा होने के कई कारण है.

अब आपको पता है कि Flutter से हम अलग-अलग तरह के प्लेटफार्म में एप्स बना सकते हैं और वो भी एक ही codebase पर.

इससे कंपनी की cost cutting हो जाती है क्योंकि एक ही बंदा सारी applications बना रहा है और Flutter developer का भी code में updation करना आसान हो जाता है.

Flutter एक नई technology है तो इसे हर कंपनी अपनाना तो चाहेगी ही.

Flutter की नौकरी के लिए कहां एप्लाई करें? 

अगर आपको Flutter apps बनानी आ ही गई हैं तो आप Flutter Jobs के लिए अप्लाई कर सकते हैं, लेकिन Flutter developer की job करने के लिए आपका professional होना जरूरी है, नहीं तो सभी कंपनियां आपको internship में ही रखेंगी.

अगर आप Professional Flutter Developer हैं तो आपको जॉब के तौर पर 10,000 से 3 लाख तक हर महीने मिल सकते हैं.

आप Flutter Developer की जॉब पाने के लिए नीचे दिए गए काम कर सकते हैं:

  • आप जो भी app बनाए उसे GitHub पर जरूर डालिए. यकीन मानिए इससे आपको job जल्दी मिलेगी.
  • आप LinkedIn पर account जरूर बनाए और अपनी profile में flutter developer लिखना मत भूलना. क्योंकि ज्यादातर recruiter आपको LinkedIn पे ही ढूंढते हैं. आप खुद भी LinkedIn पर Flutter Jobs सर्च कर सकते हैं.
  • आप Indeed App में भी Flutter Jobs सर्च कर सकते हैं.
  • अगर आप थोड़ा बहुत Flutter जानते हैं तब भी आप दूसरी companies में internship के लिए अप्लाई कर सकते हैं और उन्हें Join कर सकते हैं.

कई कंपनियां Paid Interns को भी बुलाती हैं, आप Internshala की वेबसाइट पर ऐसी कंपनियों को ढूंढ सकते हैं, आपको Flutter की 5,000 या इससे ऊपर की internship मिल जाएगी.

Flutter का भविष्य क्या है?

Flutter Future in Hindi

वैसे तो technologies बदलती रहती हैं. लेकिन जैसे कि आपको Flutter की ताकत का पता चल चुका है तो आपको चिंता करने की जरूरत नहीं. वैसे भी Flutter, गुगल का प्रोडक्ट है, इसलिए आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है.

कुछ ही सालों बाद Google नया operating system लेके आएगा मार्केट में, जिसका नाम fuchsia है, जोकि सिर्फ और सिर्फ Flutter पर चलेगा. 

आप ज़रा सोचिये अगर आज आप Flutter में applications बनाना शुरू करते हैं, तो कल इसी flutter में आप OS भी बना सकते हैं.

Flutter का भविष्य काफी Bright है.

शीर्षक

आज के इस लेख में हमने अपको बताया कि Flutter क्या है, और साथ ही साथ Flutter कैसे काम करता है, Flutter का भविष्य क्या है, Flutter कैसे सीखें आदि topics को cover किया है.

अगर आपने इस लेख को अच्छे से पढ़ा है तो आप काफी अच्छी तरह से जान चुके होंगे कि Flutter क्या है.

आप भी Flutter को सीखकर अच्छी से अच्छी applications बना सकते हैं और किसी tech कंपनी में जॉब भी कर सकते हैं.

अगर आपको हमारा लेख अच्छा लगा है तो आप इसे अपने रिश्तेदारों, friends आदि के साथ सांझा जरूर कीजिए ताकि वह भी Flutter के बारे में जान सकें और चाहें तो इसे सीख सकें.

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम युवराज परमार है और मेरी उम्र 17 साल है. मैं HindiFreaks.Com वेबसाइट का Founder हूं. मैं पेशे से एक Digital Marketer हूं और 12 वीं कक्षा में पढ़ रहा हूं. About us

Leave a Comment